बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड लोन इंटरेस्ट रेट- जाने कितना है

दोस्तों बिहार सरकार द्वारा बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना को 2 अक्टूबर 2016 को लांच किया गया था। मुख्यमंत्री नितीश कुमार के अगुवाई में लाये गये इस योजना का प्रदेश के छात्रों पर सकरात्मक प्रभाव देखा गया है।  दोस्तों लोन तो कोई भी बैंक देने के लिए राजी हो जाता है पर वहां पर कई सारी शर्ते आ जाया करती है।  इस आर्टिकल में हम मुख्यतया बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड लोन इंटरेस्ट रेट के बारे में आपको सही जानकारी देंगे।

बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड लोन इंटरेस्ट रेट

दोस्तों बिहार बिहार स्टूडेंट्स क्रेडिट कार्ड लोन का इंटरेस्ट सिंपल इंटरेस्टयानी साधारण व्याज है। विहार सरकार के द्वारा सभी छात्रों ब्याज दर बराबर नही है। बिहार सरकार ने लोन के इंटरेस्ट में आरक्षण को भी अवगत कराया है।  हालांकी इन आरक्षण का आधार जातिगत नही है।  सरकार ने लैंगिकऔर स्वास्थ्य के आधार पर दो इंटरेस्ट रेट को तय किया है।

1- सरकार ने ऋण राशि पर 4 प्रतिशत सरल ब्याज (Simple Interest) का दर साधारण छात्रों के लिए निर्धारित किया है।

2- महिला, दिव्यांग और ट्रांसजेंडर के लिए मात्र 1 प्रतिशत ब्याज दर को निर्धारित किया गया है।

यहा पर हम जो जानकारी आपको दे रहे है वह बिहार क्रेडिट कार्ड लोन के ऑफिसियल वेबसाइट से ली गयी है।

बिहार सरकार द्वारा जारी की गयी गाइडलाइन के पीडीऍफ़ के लिए – यहां क्लिक करें

स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड लोन का लक्ष्य –

बिहार सरकार के द्वारा 2015 के आकलन की अनुसार बिहार का उच्चा शिक्षा में  gross enrolment ratio (GER) मात्र 14.3% था। जो रास्ट्रीय अनुपात 24 % से काफी कम था।  बिहार सरकार का लक्ष्य 30% तक ले जाने का है।

योजना का उद्देश्य प्रदेश के विद्यार्थी जो आर्थिक रूप से कमजोर है, को उच्च शिक्षा प्रदान करने का है।  सरकार ने वित्तीय वर्ष 2018-19 के बीच में 50,000, वित्तीय वर्ष  2019-20 में 75,000 और वित्तीय वर्ष  2020-21 में 1,00,000 अनुमानित विद्यार्थियों को इस योजना का लाभ उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखा गया है।

बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड लोन लेने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए

बिहार सरकार द्वारा जारी किये गये गाइड लाइन के अनुसार निम्नलिखित योग्यता वाले छात्र लोन का लाभ उठा सकते है।

  • आवेदक बिहार का निवासी होना चाहिए।
  • सीमावर्ती राज्यों के सरकारी मान्यता प्राप्त विद्यालय से ही कक्षा बारहवी पास होना चाहिए।
  • आवेदक अगर स्नात्तक(ग्रेजुएशन) के लिए लोन लेना चाहता तो उसकी उम्र पचीस साल से कम होनी चाहिए।  अगर छात्र स्नात्तक के ऊपर स्तर की शिक्षा के लिए लोन लेना चाहता है तो उसकी अधिकतम आयु तीस साल होनी चाहिए।
  • विद्यार्थी यद्यपि सीमावर्ती राज्य (उत्तर प्रदेश , पश्चिम बंगाल , झारखण्ड ) के बोर्ड से दसवी या बारहवी पास है या फिर पोलिटेक्निक पाठ्यक्रम से दसवी के बाद की पढ़ाई की है , उसे भी योजना का लाभ लेने के योग्य माना जायेगा।

बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड लोन के फायदे

  • बिहार सरकार द्वारा बिहार स्टूडेंट क्रेडिट लोन इंटरेस्ट अधिकतम चार प्रतिशत  है जो साधारण बैंक के आधे से भी कम है।
  • सरकार के द्वारा छात्रों की शैक्षणिक शुल्क के आलावा रहने खाने के लिए भी खर्चा उठाया जायेगा।

बिहार सरकार द्वारा जारी किया गया गया ऑफिसियल केलिन्डर को देखे 

 

4 thoughts on “बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड लोन इंटरेस्ट रेट- जाने कितना है”

Leave a Comment