लड़कियों की उच्च शिक्षा के लिए योजनाएं 2022|ladkiyon ki uchch shiksha ke liye yojanaen

लड़कियों को शिक्षा में समान अधिकार देने के लिए केंद्र सरकार और राज्य सरकारे कई तरह के प्रयास कर रही है। सरकार द्वारा ऐसी कई योजनायें चला रही है जो लड़कियों के लिए ही लागू की गई है। ऐसी तीन योजनायें है जो लडकियों को उच्च शिक्षा देने और इसमें मदद करने के उद्देश्य से लागु की गई है। लड़कियों की उच्च शिक्षा के लिए योजनाएं 2022 के बारे में डिटेल में जानने के लिए इस लेख को अंत तक पढ़े।

आपको इस योजना का लाभ लेने के लिए क्या – क्या करना होगा और इन योजनाओं मे किस तरह से आवेदन करना होगा इसके बारे में डिटेल नीचे बताई गई है। 

लड़कियों की उच्च शिक्षा के लिए योजनाएं 2022

लड़कियों की उच्च शिक्षा के लिए योजनाएं 2022

देश में लड़कियों को उच्च शिक्षा देने के लिए अब तक तीन योजनायें लागू की गई है। इन योजनाओं की सूची में यह सभी योजनायें इस प्रकार है – 

  • सुकन्या समृधि योजना
  • सीबीएसई छात्रवृति योजना
  • बालिका समृधि योजना

लड़कियों के लिए यह तीनों योजनायें लागू की गई है। इन योजनाओं की मदद से लड़कियों को उच्च शिक्षा दिलाने के लिए और उन्हें आगे बढाने के लिए छात्रवृति और आर्थिक मदद दी जायेगी। इन योजनाओं की सूची में कुछ तो ऐसी योजना है जिसके तहत छात्राओं के नाम का बैंक में खाता खोलना पड़ता है और उसमे कुछ सेविंग जमा करवानी होती है। 

सुकन्या समृधि योजना

इस योजना के तहत के तहत लड़कियों के नाम से पोस्ट ऑफिस में एक खाता खुलवाना होता है। इस खाते में हर माह एक निच्छित राशि सेविंग के तौर पर जमा करवानी होती है। इसके बाद इस योजना के तहत उस खाते में निच्छित दर पर ब्याज दिया जाएगा। 

लड़की के 10 साल की होने के बाद कम से कम 250 रूपये से पोस्ट ऑफिस में खाता खुलवाया जा सकता है। इसके अलावा खाते में हर साल अधिकतम 1 लाख 50 हजार की राशि जमा करवा सकते है। इस खाते में जमा राशि पर 7।6 प्रतिशत तक का ब्याज दिया जाता है। 

 बैंक से एजुकेशन लोन कैसे ले जानने के लिए – यहां क्लिक करें 

सुकन्या समृधि योजना में आवेदन हेतु दस्तावेज

सुकन्या समृधि योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक के पास यह सभी जरुरी दस्तावेज होने चाहिए। इन दस्तावेजों के साथ ही आवेदक इस योजना का लाभ ले सकता है। 

  • लड़की का आधार कार्ड – आवेदन पत्र के साथ उस लड़की का आधार कार्ड देना होता है जिस लड़की के नाम का खाता खुलवाना है। 
  • बिटिया का जन्म प्रमाण पत्र – लड़की का जन्म प्रमाण पत्र भी जरुरी है। आवेदन पत्र के साथ लगाना होता है। 
  • माता पिता का आधार कार्ड – इस योजना के तहत आवेदन करने के लिए लड़की के माता पिता के पहचान पत्र भी जमा करवाने होते है। 
  • पते का प्रमाण – इसके अलावा आवेदक के पास खुद के पते का प्रमाण भी होना जरुरी है। इससे सम्बंधित दस्तावेज भी आवेदक को फॉर्म के साथ जमा करवाने होते है। 

इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको इन सभी दस्तावेजों की आवश्यकता होती है। 

खाते से पैसे कब निकलेगा ?

इस योजना के तहत पोस्ट ऑफिस के खाती में जमा करवाया हुआ पैसा लड़की उम्र 18 साल पूरी होने के बाद उसकी शिक्षा के लिए खाते में जमा राशि की 50 प्रतिशत राशि निकाली जा सकती है। इसके अलावा लड़की की शादी होने तक ( कम से कम 18 साल की उम्र होने पर ) उस खाते को चालाया जा सकता है। 

सीबीएसई छात्रवृति योजना

इस योजना की शुरुआत केंद्र बोर्ड द्वारा की गई है। सीबीएसई बोर्ड द्वारा लागू की गई इस योजना में छात्राओं के कक्षा 10 में अच्छे नंबर लाने पर इस योजना का लाभ उन्हें दिया जाएगा। इस योजना का मुख्य उद्देश्य लड़कियों की आर्थिक स्तिथि को मजबूत बनाना है और और वित्तीय सहायता प्रदान कर प्रोत्साहित करना है।

इस योजना के तहत अगर कोई लड़की कक्षा 10 में 60 प्रतिशत से अधिक नंबर लाती है तो उस महिला को इस योजना के तहत 500 रूपये रूपये की छात्रवृति हर माह दी जाती है। इसके अलावा इस योजना में उन जरूरतमंद लड़कियों को सहायता दी जाती है जो अपने माँ बाप की एकमात्र संतान हो और सीबीएसई से जुडी स्कूल से पढाई कर रही हो। 

इस योजना दे जुड़ा लाभ लेने के लिए और आवेदन करने के लिए आप सीबीएसई बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर चेक कर सकते है। 

बालिका समृधि योजना

बालिका समृधि लड़कियों की उच्च शिक्षा के लिए एक और शानदार योजाना है। इस योजना के तहत लड़कियों के जन्म से लेकर लड़कियों की पढाई यानी उच्च शिक्षा तक उन्हें आर्थिक सहायता प्रदान करेगी। इस योजना में आवेदन करने के लिए ऑफलाइन अपने नजदीक के आंगनवाडी कार्यकर्ता में संपर्क कर सकते है। 

इस योजना में लड़की के जन्म के बाद कक्षा 1 में प्रवेश लेने से लेकर उसकी उच्च शिक्षा तक के लिए उन्हें आर्थिक लाभ दिया जाएगा। हर एक साल बाद और हर एक कक्षा पास करने के बाद उन्हें आर्थिक सहायता दी जायेगी। 

  • लड़की के कक्षा 1 में प्रवेश लेने पर और कक्षा 3 पास करने तक उस छात्रा को 3 हजार की आर्थिक सहायता दी जायेगी। 
  • इसके बाद जैसे ही लड़की कक्षा 4 में प्रवेश करती है तो उन्हें इस योजना के तहत 500 रूपये दिए जायेंगे। 
  • इसके बाद कक्षा 5 में प्रवेश लेने पर उस छात्रा को 600 रूपये की आर्थिक सहायता दी जायेगी। 
  • इसके बाद छात्राओं को कक्षा 6 और 7 में आने पर उन्हें आर्थिक सहायता के रूप में 700 रूपये दिए जायेंगे। 
  • इसके बाद कक्षा 8 में प्रवेश लेने पर उस छात्रा को 800 रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जायेगी। 
  • कक्षा 9 ओर 10 में आने पर उस छात्रा को 1000 रुपये की आर्थिक सहायता दी जायेगी। 

यह आर्थिक सहायता छात्राओं का मनोबल बढ़ाएगी और वो छात्रा अपनी पढाई पूरी कर सकेगी। 

यह है वो तीन योजना जिनका उद्देश्य लड़कियों को उच्च शिक्षा देने के लिए और उन्हें प्रोत्साहित करने के लिए लागू की गई है। इन योजनाओं का लाभ देश की हर वो छात्राएं ले सकती है जो इस योजना के मापदंड को पूरा कर लेती है।

2 thoughts on “लड़कियों की उच्च शिक्षा के लिए योजनाएं 2022|ladkiyon ki uchch shiksha ke liye yojanaen”

  1. सीबीएसई बोर्ड स्कूल में जो बालिकाएं पढ़ रही हैं उनके लिए उच्च शिक्षा हेतु सरकारी योजना क्या है

    Reply

Leave a Comment