NCC Kya Hai in Hindi: NCC क्या है, कैसे ज्वाइन करें?

NCC Kya Hai in Hindi: आज हम एक ऐसे विषय के बारे में बात करने जा रहे हैं जिसकी शुरुआत तो अंग्रेजो ने की थी। लेकिन आज के समय में ये आज हमारे देश की एक प्रतिष्ठित संस्था है। जो देश के लाखो स्कूलों और कॉलेज में संचालित किया जा रहा है। जिसे ज्वाइन करने के बाद आपको भारत के तीनों सेनाओं यानी की जल थल और वायु सेना भर्ती मिलने में काफी मदद मिलती है। आपने NCC का नाम तो सुना ही होगा। यह एक ऐसी संस्था जो स्कूल और कॉलेजों में पड़ने वाले छात्रों को न सिर्फ सेना की ट्रेनिंग करवाती है। साथ ही साथ सेना में सामिल होने से पहले वह सेना के तमाम नियम और तौर तरीके को सिखाती है। कुल मिलकर कहें तो  इसे ज्वाइन करने वाले छात्र सेना में ज्वाइन करने से पहले ही काफी हद तक तैयार हो जाते है।

NCC क्या है? What is NCC in Hindi –

दोस्तों हमारे देश में भारतीय सेना को ज्वाइन करने का उद्देश्य सिर्फ नौकरी पाना ही नहीं होता है। बल्की लाखो करोडो युवाओं का सपना होता है। इसके लिए युवा सालो तैयारी करते है। और वो सेना के किसी भी अंग में भर्ती होना चाहते है। चाहे वो थल , जल या वायु सेना हो। उनके अन्दर हमे देशभक्ती की अलग ही भावना देखने को मिलती है। लेकिन क्या आपको पता है की NCC ऐसे ही युवाओं को तैयार करती है, जो सेना में भर्ती होना चाहते हैं।

NCC kya hai in hindi

यह भी जाने – हरियाणा इतने ज्यादा मैडल क्यों लाता है?

NCC का फुल फॉर्म क्या है (in Hindi & English) –

NCC का Full Form होता है नेशन कैडेट्स कोर्प्स (National cadets corps). इसे भारतीय सशत्र बल की युवा शाखा खा जाता है। जिसका मतलब ऐसी शाखा जहाँ युवाओं को भारतीय सेना के तीनों अंगो में सामिल होने की ट्रेनिंग दी जाती है। देशभक्ती और सेना से जुडी अनुशासन के बारे में बताया जाता है।

दोस्तों NCC भारत के लाखो स्कूलों और कॉलेज में इस वक्त काम कर रहा है। ये हर साल लाखो बच्चो की भर्ती करता है। छात्रों को सेना से जुडी ट्रेनिंग देता है जिनमे हथियारों को चलाने से लेकर सेना से जुड़े बेसिक ट्रेनिंग का कम करता है।

NCC का इतिहास क्या है ?

दोस्तों NCC का इतिहास आजादी से पहले का है। अंग्रेजो के साथ स्थापित किये गए ऐसी शाखा में कई बदलाव किये गए। जो बाद में आजादी के बाद NCC के रूप में स्थापित हुआ। जो रक्षा मंत्रालय के अंतर्गत काम करता है। दरअसल प्रथम विश्व युद्ध के दौरान अंग्रेजो को सेना की भारी कमी हुयी। इसी को देख के यूनिवर्सिटी कोर की स्थापना की गई। जिसका पहला बैच कलकत्ता विश्वविद्यालय में शुरू किया गया। जिसके बाद साल 1920 में इसका नाम बदल कर UTC कर दिया गया जिसे यूनिवर्सिटी ट्रेनिंग कोर कहा गया। उसके बाद साल 1942 में इसके नाम में एक बार फिर से इसके नाम में बदलाव किया गया। और इसका नाम UOTC यानी की यूनिवर्सिटी अफसर ट्रैंनिन कोर रखा गया।

दोस्तों यहां पर ध्यान देनी वाली बात ये यही की अब तक बहुत काम छात्रों का इसमें इंटरेस्ट रहा। मतलब ये योजना लगातार असफल होती चली गई। इसलिए साल 1946 में पंडित ह्रदय नाथ कुदुरु की अध्यछता में राष्ट्रीय क्रेडिट कोर की स्थापना की गई। इस समिति काफी समय युवाओं को मिलने वाले प्रशिक्षण का अध्यन करने के बाद साल 1947 सर्कार को रिपोर्ट सौप दी। जिसके बाद सरकार ने इस समिति को रिपोर्ट करते हुए स्वीकार करते हुए 16 जुलाई 1948 में रक्षा मंत्रालय के अधीन आने वाले NCC की स्थापना की। इस तरह से NCC 1948 में अस्तित्व में आ गया।

यह भी जाने – वनपाल वनरक्षक भर्ती 2022

NCC में क्या होता है?

दोस्तों NCC हमारे स्कूल और कॉलेज में सेना की ट्रेनिंग का हिस्सा है। NCC के छात्रों को सेना से सम्बंधित सभी तरह की ट्रैनिग दी जाती है। ट्रेनिंग के दौरान आपको दुश्मनो से सामना कैसे करना है ये बताया जाता है। वही छात्रों को जरूरी बेसिक ट्रेनिंग भी दी जाती है।

NCC का लक्ष्य क्या है?

National cadets corps का लक्ष्य युवाओं को नेतृत्व करना सिखाना , युवाओं को राष्ट्र के लिए बलिदान और सेवा का कर्तव्य सिखाना है। NCC में का लक्ष्य आवश्यक पड़ने पर रिज़र्व फ़ोर्स के लिए भी सरकार कर सकती है। साथ ही साथ आपदाओं के लिए युवा बल तैयार करना है ताकी आपदाओं से आसानी से लड़ा जा सके।

NCC कैसे ज्वाइन करें –

NCC ज्वाइन करने के लिए आपको ऑफलाइन ही आवेदन करना होगा। अधिकतर NCC ज्वाइन करने का ऑप्शन आपके कॉलेज या फिर स्कूल में होता है। अगर आप बहुत ज्यादा इच्छुक है तो आपके इलाके के NCC अफसर से भी कांटेक्ट कर सकते है। NCC में इच्छुक लोगो का ही जरुरत होता है।

यह भी जाने – लड़कियों की उच्च शिक्षा के लिए योजनाएं

National cadets corps के फायदे –

NCC के बहुत सरे फायदे होते है। हमने कुछ सारे फायदे आपको नीचे बताये हुए है।

  • NCC सर्टिफिकेट से आपको गोवेर्मेंट जॉब में आरक्षण मिलता है। उदाहरण के तौर पर शिक्षक भर्ती ,सेना भर्ती , रेलवे भर्ती , पुलिस भर्ती आदि में।
  • NCC सर्टिफिकेट के मदद से आपको उच्च शिक्षा के लिए कॉलेज के में दाखिले के वक्त आरक्षण मिलता है।
  • NCC की ट्रेनिंग आपको हतियार चलाने में और सेल्फ डिफेन्स करने में सक्षम कर देती है।
  • NCC की ट्रेनिंग में आपको सर्वाइवल टेक्निक बताये जाते है जैसे तैरना , तम्बू तानना आदि। जो की अगर आप कही ट्रेवल करते है या फिर ट्रैवलिंग का शौख रखते है तो आपके काम आ सकती है।

 

Also Read: How To Join Merchant

Leave a Comment